बिमारी का रहस्य

हम हमेशा बिमार क्यो होते है

सामान्य रूप से ब्यक्ति बिमार ४ कारणो की वजह से होता है. और व्यक्ति जितना ही इन कारणो को अपने से दूर रखेगा उतना ही वह बिमारियो से बचा रहेगा.

इसमे पहला कारण है भोजन. २५% बिमारिया गलत भोजन लेने की वजह से होती है. जैसे…

  • जरूरत से ज्यादा भोजन करना
  • भोजन मे स्वादिष्ट चीजो का अधिक मात्रा मे उपयोग करना
  • तला हुआ पदार्थ का सेवन अधिक करना
  • अपने भोजन मे मिर्च-मसालो का उपयोग अधिक करना
  • अपने भोजन मे सलाद, फल, हरी सब्जी का उपयोग कम करना
  • बासी भोजन करना
  • भोजन को चबा-चबाकर न खाना यानी जल्दी-जल्दी भोजन करना
  • भोजन के तुरंत बाद अत्यधिक जल पीना
  • भोजन के साथ ठंडे पेय यानी कोल्ड ड्रिंक का उपयोग करना

अब दूसरा कारण है व्यायाम. शरीर की २५% बिमारिया शरीर मे हलचल न होने की वजह से होती है. जैसे…

  • अत्यधिक मानसिक श्रम करना लेकिन शारीरिक श्रम बिल्कुल भी नही करना
  • एक ही जगह पर बैठे-बैठे ८-१० घंटे तक काम करना
  • रोज टहलने न जाना

अब तीसरा कारण है भावना. २५% बिमारियो का संबंध ब्यक्ति की भावनाओ से जुडी होती है. जैसे…

  • स्वस्थ शरीर हमारे अच्छे विचारो पर निर्भर रहता है.
  • क्रोध, ईर्ष्या, घृणा, निंदा, अहंकार और भय जैसे नकारात्मक विचार हमारे शरीर मे तनाव पैदा करती है
  • इसके अलावा किसी भी प्रकार की नकारात्मक सोच शरीर को नुकसान पहुचाती है.
  • शरीर मे नकारात्मक सोच की वजह से मानसिक समस्याये उत्पन्न हो जाती है तथा ब्यक्ति भावना के वशीभूत होकर आत्महत्या तक कर लेता है

अब चौथा कारण है पूर्व जन्म के संस्कार. २५% बिमारिया पूर्व जन्म के संस्कार द्वारा व्यक्ति को विरासत मे मिलती है. जैसे…

  • प्राकृतिक आपदाये
  • वंशानुगत रोग यानी माता-पिता से मिली बिमारिया
  • अनजाने रोग
  • अचानक होने वाली दुर्घटनाये

कुछ अनिवार्य घटनाये जिसे रोका नही जा सकता. इन पर किसी का वश नही चलता. इसे धैर्य पूर्वक स्वीकार करना चाहिये.

इस तरह से अगर हम भोजन, व्यायाम तथा भावनाओ पर नियंत्रण कर ले तो अधिकतर रोगो की रोकथाम स्वतः ही हो जायेगी. जिस तरह से अगर आप अपनी जीवन शैली को थोडा बदल ले तो आपका जीवन सुखमय हो जायेगा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*